K L Rahul Biography (Lifestory) in Hindi | Age | Wife | Family | Career

K L Rahul Biography (Lifestory) in Hindi

के.एल. राहुल का पूरा नाम कन्नूर लोकेश राहुल है. इनका जन्म 18 अप्रैल 1992 को कर्नाटक के मंगलूर नामक शहर में हुआ. इनके पिता का नाम केएन लोकेश और माता का नाम राजेश्वरी है. के एन लोकेश नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कर्नाटक में एक प्रोफेसर और कार्यकारी निदेशक के रूप में कार्यरत हैं.

इनकी मां राजेश्वरी मैंगलोर यूनिवर्सिटी में हिस्ट्री प्रोफेसर के रूप में कार्यरत हैं. इनके पिता के अनुसार के.एल. राहुल ने अपना क्रिकेटिंग करियर 11 वर्ष की उम्र पर शुरू कर दिया था.

लोकेश राहुल का करियर (KL Rahul Career)


21 टेस्ट, 10 ODI और 56 प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच खेलने वाले के.एल. राहुल घरेलू क्रिकेट में कर्नाटक टीम की तरफ से खेलते हैं. लोकेश राहुल ने अपने घरेलू करियर की शुरुआत सन 2010-11 में कर्नाटक की तरफ से की. इसी वर्ष अंडर-19 ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा बने.

2014-15 की दिलीप ट्रॉफी में साउथ जोन की तरफ से खेलते हुए सेंट्रल जोन के खिलाफ पहली इनिंग में 233 गेंद पर 185 रन और दूसरी इनिंग में 152 गेंदों पर 130 रन की शानदार पारी खेली. इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद भी साउथ जोन,सेंट्रल जोन से 9 रन से हार गई लेकिन इनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए इन्हें मैन ऑफ द मैच का अवार्ड दिया गया तथा इनका सिलेक्शन ऑस्ट्रेलिया टूर में जाने वाली भारतीय टीम में हुआ. यही से इनकी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में की.

इस सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में के.एल. राहुल ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और शानदार 110 रन की पारी खेलकर अपने टेस्ट करियर का पहला शतक लगाया. ये भारत के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने वनडे क्रिकेट के पदार्पण मैच में शतक लगाया.

इन्होंने वनडे करियर की शुरुआत जिंबाब्वे के खिलाफ हरारे में की थी. जिसमें इन्होंने शानदार शतकीय पारी खेली. यह भारत के तीसरे ऐसे बल्लेबाज है, जिन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट ODI और टी-20) में शतक लगाया है. इसके साथ-साथ यह भारतीय क्रिकेट के एकलौते ऐसे बल्लेबाज है जिन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में अपना शतक बाउंड्री(छक्के) के साथ पूरा किया है.

KL Rahul and Athiya Shetty Wedding Pics


लोकेश राहुल के नाम की कहानी (Story of KL Rahul Name)


अध्यापन के क्षेत्र से जुड़े होने के बावजूद के.एल. राहुल के पिता को क्रिकेट में बहुत दिलचस्पी थी. यहां तक कि वह कॉलेज लेवल में क्रिकेट भी खेला करते थे. इनके पिता सुनील गावस्कर के बहुत बड़े प्रशंसक थे और अपने बेटे का नाम भी सुनील गावस्कर के नाम पर ही रखना चाहते थे लेकिन नामकरण के वक्त यह सुनील गावस्कर का नाम भूल गए और इनके दिमाग पर सुनील गावस्कर के बेटे रोहन गावस्कर के नाम पर नामकरण करने की इच्छा हुई पर भूलवश वह रोहन गावस्कर का नाम भी भूल गए और इन्होंने इनका नाम राहुल रख दिया. बाद में उन्होंने फिर इनका नाम परिवर्तित करने की जरूरत नहीं समझी.

लोकेश राहुल के नाम की कहानी (Story of KL Rahul Name)

अध्यापन के क्षेत्र से जुड़े होने के बावजूद के.एल. राहुल के पिता को क्रिकेट में बहुत दिलचस्पी थी. यहां तक कि वह कॉलेज लेवल में क्रिकेट भी खेला करते थे. इनके पिता सुनील गावस्कर के बहुत बड़े प्रशंसक थे और अपने बेटे का नाम भी सुनील गावस्कर के नाम पर ही रखना चाहते थे लेकिन नामकरण के वक्त यह सुनील गावस्कर का नाम भूल गए और इनके दिमाग पर सुनील गावस्कर के बेटे रोहन गावस्कर के नाम पर नामकरण करने की इच्छा हुई पर भूलवश वह रोहन गावस्कर का नाम भी भूल गए और इन्होंने इनका नाम राहुल रख दिया. बाद में उन्होंने फिर इनका नाम परिवर्तित करने की जरूरत नहीं समझी.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ